दो मुखी रुद्राक्ष-

दो मुखी रुद्राक्ष अर्ध नारेशवर का स्वरूप माना जाता है।इसे शिव-पार्वती का समन्वय भी कहते है,जिन लोगों के मन और मस्तिक के बीच समन्वय या संतुलन बिगड़ जाए , ऐसे लोगों को दो मुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिए।

२ मुखी रुद्राक्ष के फ़ायदे-

१.मन और मस्तिक में संतुलन बनाता है।
२.दाम्पत्य जीवन में सुधार लाता है।
३.चन्द्रमा ग्रह की शक्ति बढ़ाता है।
४.रूप व चंचलता बढ़ाता है।
५. आँखों में तेज़ व आकर्षण पैदा करता है।
६. रूप,सौंदर्य,भोग की इच्छा पूर्ण करता है।
७.बवासीर रोग में फ़ायदा पहुँचाता है।

कौन लोग धारण करें ?

१. फ़िल्म इंडस्ट्री के लोग
२.थेयटर कलाकार
३.फ़िल्मों में काम करने की इच्छा रखने वाले
४.कर्क राशि वाले लोग
५.sales & marketing से जुड़े लोग
६. समलेंगिक
७.एक तरफ़ा प्यार में पड़े लोग
८. रूपवान महिलायें